ZEE जानकारी: संभलकर रहिए! अब तो जीरा भी नकली और मिलावटी हो गया है

आप जो सब्जियां और फल खा रहे हैं उनमें मिलावट है. जो दूध आप पी रहे हैं उसमें भी मिलावट है. जिस हवा में आप सांस ले रहे हैं उसमें भी प्रदूषण घुल चुका है और जो पानी आप पी रहे हैं वो भी पीने लायक नहीं है. यानी सुबह से शाम तक आप सिर्फ मिलावट भरी...

ZEE जानकारी: संभलकर रहिए! अब तो जीरा भी नकली और मिलावटी हो गया है
आप जो सब्जियां और फल खा रहे हैं उनमें मिलावट है. जो दूध आप पी रहे हैं उसमें भी मिलावट है. जिस हवा में आप सांस ले रहे हैं उसमें भी प्रदूषण घुल चुका है और जो पानी आप पी रहे हैं वो भी पीने लायक नहीं है. यानी सुबह से शाम तक आप सिर्फ मिलावट भरी जिंदगी जी रहे हैं और इस मिलावट को रोकने के लिए जो कोशिशें हो रही हैं. वो ऊंट के मुंह में जीरे के बराबर है और अब तो ये जीरा भी मिलावट का शिकार हो गया है.