स्मृति का प्रियंका पर पलटवार, किसानों की जमीन हड़पने वाले न दें नसीहत

डिजिटल डेस्क, अमेठी। केंद्रीय कपड़ा, महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के ट्वीट पर पलटवार करते हुए बुधवार को यहां कहा कि जिनके परिजनों पर किसानों की जमीन हड़पने के आरोप हैं, वे लोग अपने गिरेबान...

स्मृति का प्रियंका पर पलटवार, किसानों की जमीन हड़पने वाले न दें नसीहत

डिजिटल डेस्क, अमेठी। केंद्रीय कपड़ा, महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के ट्वीट पर पलटवार करते हुए बुधवार को यहां कहा कि जिनके परिजनों पर किसानों की जमीन हड़पने के आरोप हैं, वे लोग अपने गिरेबान मे झांक कर देखें और प्रदेश सरकार तथा अमेठी के प्रशासन को नसीहत न दें।

ज्ञात हो कि अमेठी में पुलिस अभिरक्षा में हुई एक व्यक्ति की मौत पर प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया था,, यूपी पुलिस अपराधियों पर मेहरबान है, लेकिन हर दिन नागरिकों को परेशान करने में माहिर है। प्रियंका ने प्रतापगढ़ व हापुड़ की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा सरकार के कान पर जू तक नहीं रेंग रही।

प्रियंका के ट्वीट को लेकर पूछे गए सवाल पर स्मृति ईरानी ने कहा, मैं इतना कहना चाहूंगी कि जिन्होंने गुंडाराज में अपनी सत्ता चलाई वे आज योगी सरकार पर कटाक्ष कर रहे हैं। जिनके अपने परिजनों के ऊपर गबन के आरोप हैं, किसानों की जमीन हड़पने के आरोप हैं और जो सम्राट साइकिल की जमीन हड़प कर बैठै हैं, वे नसीहत न दें तो बेहतर होगा।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी बुधवार दोपहर बाद दो दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंचीं। उन्होंने कहा, मैं इस बात से पूर्णत: सहमत हूं और विश्वास प्राप्त कर चुकी हूं कि सरकार परिवारों को न्याय पहुंचाएगी। अमेठी में किसानों की जमीन हड़पने वाले अमेठी के प्रशासन एवं सरकार को नसीहत देने के बजाए किसानों की जमीन उन्हें लौटा दें। पांच सालों से मेरा आग्रह रहा है, लेकिन जिसने यह बयान अभी दिया है, उसके कान पर जू नहीं रेंगी है।

स्मृति ने बीएचईएल गेस्ट हाउस में पहले जगदीशपुर व कमरौली औद्योगिक क्षेत्र के व्यापारियों के साथ बैठक की। इसके बाद संगठन से जुड़े लोगों के साथ बैठक कर उनसे उनके क्षेत्र की समस्याओं और शासकीय योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की।

-- आईएएनएस



.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.
.
...
Smriti's retaliation on Priyanka, do not give advice to farmers who grab land
.
.
.