राफेल आया और शिक्षा नीति भी मंजूर हुई, देश के लिए बड़ा दिन : बीएल संतोष

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में बुधवार को फ्रांस से पांच राफेल लड़ाकू विमानों के पहुंचने और उसी दिन नई शिक्षा नीति को कैबिनेट से मंजूरी मिलने की घटना को भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने उल्लेखनीय करार दिया है। उन्होंने इसे लैंडमार्क इवेंट करार करार देते हुए देश के लिए बड़ा दिन करार दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में नई शिक्षा नीति को मंजूरी मिली। इसी के साथ मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया गया। 34 साल बाद देश की शिक्षा नीति में बड़ा परिवर्तन हुआ है। भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने कहा, आज की दो उल्लेखनीय घटनाएं। पांच राफेल विमान अंबाला में लैंड हुए और कैबिनेट ने न्यू एंडिया के लिए नई एजूकेशन पॉलिसी को भी मंजूरी दी। महान दिन। बीएल संतोष ने आगे ट्वीट कर कहा कि 5, 3,3,4 क्लास सिस्टम, शिक्षा बजट को धीरे-धीरे बढ़ाकर 6 प्रतिशत करना, कक्षा 5 तक मातृभाषा या स्थानीय भाषा में शिक्षा ग्रहण करने जैसी बातें नई शिक्षा नीति में प्रमुख हैं। बीएल संतोष का यह बयान इसलिए भी अहम हैं, क्योंकि वह भाजपा में आरएसएस का प्रतिनिधित्व करते हैं। भाजपा में महामंत्री कई होते हैं, लेकिन संगठन महामंत्री का पद एक ही होता है, जिस पर आरएसएस के प्रचारक की नियुक्ति होती है। पिछले साल रामलाल के आरएसएस में वापस जाने के बाद से पूर्व प्रचारक बीएल संतोष भाजपा में संगठन महामंत्री का पद संभाल रहे हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि बीएल संतोष के इस बयान का अर्थ है कि संघ भी नई शिक्षा नीति को पसंद कर रहा है। .Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.....Rafael came and education policy also approved, big day for the country: BL Santosh. ..

राफेल आया और शिक्षा नीति भी मंजूर हुई, देश के लिए बड़ा दिन : बीएल संतोष
डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में बुधवार को फ्रांस से पांच राफेल लड़ाकू विमानों के पहुंचने और उसी दिन नई शिक्षा नीति को कैबिनेट से मंजूरी मिलने की घटना को भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने उल्लेखनीय करार दिया है। उन्होंने इसे लैंडमार्क इवेंट करार करार देते हुए देश के लिए बड़ा दिन करार दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में नई शिक्षा नीति को मंजूरी मिली। इसी के साथ मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया गया। 34 साल बाद देश की शिक्षा नीति में बड़ा परिवर्तन हुआ है। भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने कहा, आज की दो उल्लेखनीय घटनाएं। पांच राफेल विमान अंबाला में लैंड हुए और कैबिनेट ने न्यू एंडिया के लिए नई एजूकेशन पॉलिसी को भी मंजूरी दी। महान दिन। बीएल संतोष ने आगे ट्वीट कर कहा कि 5, 3,3,4 क्लास सिस्टम, शिक्षा बजट को धीरे-धीरे बढ़ाकर 6 प्रतिशत करना, कक्षा 5 तक मातृभाषा या स्थानीय भाषा में शिक्षा ग्रहण करने जैसी बातें नई शिक्षा नीति में प्रमुख हैं। बीएल संतोष का यह बयान इसलिए भी अहम हैं, क्योंकि वह भाजपा में आरएसएस का प्रतिनिधित्व करते हैं। भाजपा में महामंत्री कई होते हैं, लेकिन संगठन महामंत्री का पद एक ही होता है, जिस पर आरएसएस के प्रचारक की नियुक्ति होती है। पिछले साल रामलाल के आरएसएस में वापस जाने के बाद से पूर्व प्रचारक बीएल संतोष भाजपा में संगठन महामंत्री का पद संभाल रहे हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि बीएल संतोष के इस बयान का अर्थ है कि संघ भी नई शिक्षा नीति को पसंद कर रहा है। .Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.....Rafael came and education policy also approved, big day for the country: BL Santosh. ..