केन्द्रीय मंत्री रविशंकर का कांग्रेस पर वार, कहा- राफेल पर देश से माफी मांगें राहुल गांधी

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। राफेल विमान सौदे पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर हो गई है। केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आज (गुरुवार) दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस पर निशाना साधा। रविशंकर...

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर का कांग्रेस पर वार, कहा- राफेल पर देश से माफी मांगें राहुल गांधी

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। राफेल विमान सौदे पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर हो गई है। केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आज (गुरुवार) दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस पर निशाना साधा। रविशंकर प्रसाद ने कहा, राहुल गांधी ने अपने बयान पर सुप्रीम कोर्ट से माफी मांग ली है, लेकिन उन्होंने जो झूठ फैलाया है उसके लिए उन्हें देश की जनता से माफी मांगना चाहिए। कांग्रेस जवाब दे राहुल गांधी कब माफी मागेंगे ?

रविशंकर प्रसाद ने कहा, राफेल मामले में सच की जीत हुई है। सुप्रीम कोर्ट ने प्राइसिंग, खरीदने की प्रक्रिया को जांचा और उसे सही ठहराया है। कोर्ट ने स्पष्ट कर दिया है कि इस मामले में अब किसी भी प्रकार की कोई जांच नहीं की जाएगी। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस के द्वारा इस तरह का झूठा कैंपेन चलाया गया। राहुल गांधी जब अदालत से हारे तो लोकसभा चुनाव में राफेल को प्रमुख मुद्दा बनाया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी ने तो ये भी कह दिया था कि सुप्रीम कोर्ट ने नरेंद्र मोदी को चोर कहा है। केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि तब के कांग्रेस अध्यक्ष ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का राजनीतिक उपयोग किया।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मानहानि मामले में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को राहत दी है। कोर्ट ने राहुल की माफी को मंजूर कर लिया है। कोर्ट ने कहा कि राहुल का बयान दुर्भाग्यपूर्ण हैं। उन्होंने कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष को बयान देते समय सतर्क रहने को कहा है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अदालत को राजनीतिक विवाद में घसीटना गलत है। राहुल ने माफी मांग ली थी। जिसे हमने मंजूर कर लिया है



.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.
.
...
Union Minister Ravi Shankar Prasad targeted Congress, said - Rahul Gandhi should apologize to the people of the country
.
.
.