आजम मामूली नेता नहीं, एक्शन के खिलाफ आंदोलन करेगी सपा: मुलायम

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। जौहर यूनिवर्सिटी मामले को लेकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव पार्टी के सांसद आजम खान के बचाव में उतर आए हैं। मुलायम सिंह ने आजम खान के खिलाफ हो रही कार्रवाई को गलत ठहराते हुए कहा कि, आजम जैसे नेता के साथ अन्याय हो रहा है,...

आजम मामूली नेता नहीं, एक्शन के खिलाफ आंदोलन करेगी सपा: मुलायम

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। जौहर यूनिवर्सिटी मामले को लेकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव पार्टी के सांसद आजम खान के बचाव में उतर आए हैं। मुलायम सिंह ने आजम खान के खिलाफ हो रही कार्रवाई को गलत ठहराते हुए कहा कि, आजम जैसे नेता के साथ अन्याय हो रहा है, उनके साथ कुछ भी गलत होगा तो मैं बर्दाश्त नहीं करूंगा। इतना ही नहीं उन्होंने स्पष्ट रूप से आंदोलन की चेतावनी देते हुए कार्यकर्ताओं से अपील की है कि, आज़म के खिलाफ हो रही साजिश के खिलाफ वो खड़े हों और आंदोलन करें। मैं खुद आंदोलन में साथ रहूंगा।

मुलायम सिंह यादव ने लखनऊ में पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, आजम खान बहुत साधारण परिवार से आते हैं। बाद में वह राजनीति में आ गए। जिंदगी भर गरीबों और मजदूरों की लड़ाई लड़ने वाला आजम जालिम कैसे हो सकता है। 

मुलायम सिंह ने कहा, जौहर यूनिवर्सिटी से जुड़े मामले में आजम खान पर 27 गंभीर धाराओं के तहत केस दर्ज किए गए हैं। उनके खिलाफ जो कार्रवाई की जा रही है वह गलत है। आजम खान पर जमीन हड़पने का जो आरोप लगाया गया है वह पूरी तरह बेबुनियाद है। आजम खान ने चंदे के पैसे से यूनिवर्सिटी बनाई है।

उन्होंने कहा, जिस तरह से आजम के साथ अन्याय हो रहा है, उनकी बेइज्जती की जा रही है। उसके खिलाफ खड़े होने के लिए हमारे सभी कार्यकर्ता तैयार हो जाएं। अगर अन्याय बंद नहीं किया गया तो मैं उचित व्यक्तियों से मुलाकात करूंगा। हालांकि अभी इस बारे में कोई निर्णय नहीं लिया है।

आजम खान कोई मामूली नेता नहीं हैं, उन्हें देश के नेताओं में माना जाता है। आजम जैसे नेता के साथ अन्याय हो रहा था तो बीजेपी को इसमें हस्तक्षेप करना था, लेकिन नहीं किया। मुलायम ने ये भी कहा कि, बीजेपी के कई नेता हैं जो कह रहे हैं कि आजम खान के खिलाफ कार्रवाई गलत है, इससे पार्टी को नुकसान होगा।



.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.
.
...
UP: Cases filed against Azam Khan, Mulayam Singh said, It is conspiracy against him
.
.
.