IIM नागपुर की प्रवेश प्रक्रिया में सवर्ण आरक्षण

डिजिटल डेस्क, नागपुर। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट ने अपनी प्रवेश प्रक्रिया में 10 प्रतिशत सवर्ण आरक्षण लागू करने का फैसला लिया है। जनरल श्रेणी के आर्थिक रूप से कमजोर तबके (ईडब्ल्यूएस) के स्टूडेंट्स के लिए संस्थान आरक्षण देगा। संस्थान ने  केंद्र सरकार के निर्णय पर अमल करने की जानकारी दी है।  संस्थान की ओर से जारी पत्रक के अनुसार, उनकी वर्ष 2019-21 बैच की प्रवेश क्षमता 130 की होगी। इसमें से 4 विद्यार्थियों को ईडब्ल्यूएस कोटा के तहत प्रवेश दिया जाएगा। इसे लागू करने के लिए संस्थान ने प्रवेश के लिए चयनित विद्यार्थियों को एक प्रोफार्मा दिया है, जिसमें उनसे   उनकी पारिवारिक आय और संपत्ति का विवरण मांगा गया है। संस्थान की वेबसाइट के एडमिशन पोर्टल पर भी इससे जुड़ी जानकारी भरने का विकल्प दिया गया है। जनरल श्रेणी के विद्यार्थी, जिनकी पारिवारिक आय 8 लाख रुपए प्रतिवर्ष से कम है, वे इस योजना के लिए लाभार्थी होंगे।

IIM नागपुर की प्रवेश प्रक्रिया में सवर्ण आरक्षण
डिजिटल डेस्क, नागपुर। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट ने अपनी प्रवेश प्रक्रिया में 10 प्रतिशत सवर्ण आरक्षण लागू करने का फैसला लिया है। जनरल श्रेणी के आर्थिक रूप से कमजोर तबके (ईडब्ल्यूएस) के स्टूडेंट्स के लिए संस्थान आरक्षण देगा। संस्थान ने  केंद्र सरकार के निर्णय पर अमल करने की जानकारी दी है।  संस्थान की ओर से जारी पत्रक के अनुसार, उनकी वर्ष 2019-21 बैच की प्रवेश क्षमता 130 की होगी। इसमें से 4 विद्यार्थियों को ईडब्ल्यूएस कोटा के तहत प्रवेश दिया जाएगा। इसे लागू करने के लिए संस्थान ने प्रवेश के लिए चयनित विद्यार्थियों को एक प्रोफार्मा दिया है, जिसमें उनसे   उनकी पारिवारिक आय और संपत्ति का विवरण मांगा गया है। संस्थान की वेबसाइट के एडमिशन पोर्टल पर भी इससे जुड़ी जानकारी भरने का विकल्प दिया गया है। जनरल श्रेणी के विद्यार्थी, जिनकी पारिवारिक आय 8 लाख रुपए प्रतिवर्ष से कम है, वे इस योजना के लिए लाभार्थी होंगे।