मस्जिद में एयर कंडीशन विस्फोट के कारणों की जांच होगी: हसीना

ढाका, 7 सितंबर (आईएएनएस) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा कि देशभर में मस्जिदों का निर्माण अधिकारियों की अनुमति के बाद उचित डिजाइन के साथ किया गया है या नहीं, इसका सत्यापन करना अतिआवश्यक है, ताकि नारायणगंज मस्जिद विस्फोट जैसी घटनाएं दोबारा न हों। उन्होंने संसद को बताया कि संबंधित अधिकारियों को शुक्रवार रात मस्जिद में घातक विस्फोट के कारणों का पता लगाने के लिए कहा गया है। विस्फोट में कई लोगों की मौत हुई है, साथ ही कईं लोगों को गंभीर चोटें भी आई हैं। उन्होंने कहा, विशेषज्ञों ने घटनास्थल का दौरा किया है और वहां से नमूने एकत्र किए जा रहे हैं। घटना को बेहद दुखद बताते हुए उन्होंने कहा कि मस्जिदों में कभी-कभी अनियोजित तरीके से एयर-कंडीशनर लगाए जाते हैं और कुछ मस्जिदें बिना उचित योजना के बनाई जाती हैं। हसीना ने संसद में कहा, यह सुनिश्चित करना बहुत ही आवश्यक है कि क्या निर्माण-स्थल किसी संरचना के निर्माण के लिए उपयुक्त है और क्या उपयुक्त अधिकारियों से इसकी अनुमति ली गई है और क्या डिजाइन ठीक से बनाया गया है या नहीं? अन्यथा, मस्जिद में विस्फोट / आग जैसी घटनाएं किसी भी समय हो सकती हैं। उन्होंने संसद में चर्चा में भाग लेते हुए कहा, मैंने कैबिनेट सचिव और संबंधित अधिकारियों को नारायणगंज की मस्जिद में विस्फोट के पीछे के कारणों का पता लगाने का निर्देश दिया है। उन्होंने आगे कहा, इतनी छोटी जगह (मस्जिद) में छह एयर कंडीशनर लगाए गए थे। इसके अलावा मस्जिद को गैस पाइप लाइन पर बनाया गया है। आमतौर पर, गैस पाइप लाइन पर किसी भी निर्माण की अनुमति नहीं है। क्या आरएजेयूके ने अनुमति दी है? कोई भी कभी भी ऐसी घटना होने के जोखिम को देखते हुए अनुमति नहीं दे सकता है। अभी इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को इस मामले पर गौर करने के लिए कहा कि क्या देशभर में मस्जिदों में अनियोजित तरीके से एयर कंडीशनर लगाए गए हैं या कहीं अनधिकृत स्थानों पर मस्जिदों का निर्माण किया जा रहा है, इसकी जांच करें। मस्जिद में विस्फोट को दुखद बताते हुए हसीना ने कहा कि उनकी सरकार ने जख्मी हुए लोगों को बेहतर इलाज मुहैया कराने के लिए हर संभव उपाय किए हैं। वहीं उन्होंने शेख हसीना नेशनल बर्न एंड प्लास्टिक सर्जरी इंस्टीट्यूट के मुख्य समन्वयक, डॉ. सामंता लाल सेन से अस्पताल में भर्ती घायल लोगों के अपडेट के बारे में भी जानकारी लेने की बात कही। एमएनएस-एसकेपी .Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.....The reasons for the air condition explosion in the mosque will be investigated: Hasina. ..

मस्जिद में एयर कंडीशन विस्फोट के कारणों की जांच होगी: हसीना
ढाका, 7 सितंबर (आईएएनएस) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा कि देशभर में मस्जिदों का निर्माण अधिकारियों की अनुमति के बाद उचित डिजाइन के साथ किया गया है या नहीं, इसका सत्यापन करना अतिआवश्यक है, ताकि नारायणगंज मस्जिद विस्फोट जैसी घटनाएं दोबारा न हों। उन्होंने संसद को बताया कि संबंधित अधिकारियों को शुक्रवार रात मस्जिद में घातक विस्फोट के कारणों का पता लगाने के लिए कहा गया है। विस्फोट में कई लोगों की मौत हुई है, साथ ही कईं लोगों को गंभीर चोटें भी आई हैं। उन्होंने कहा, विशेषज्ञों ने घटनास्थल का दौरा किया है और वहां से नमूने एकत्र किए जा रहे हैं। घटना को बेहद दुखद बताते हुए उन्होंने कहा कि मस्जिदों में कभी-कभी अनियोजित तरीके से एयर-कंडीशनर लगाए जाते हैं और कुछ मस्जिदें बिना उचित योजना के बनाई जाती हैं। हसीना ने संसद में कहा, यह सुनिश्चित करना बहुत ही आवश्यक है कि क्या निर्माण-स्थल किसी संरचना के निर्माण के लिए उपयुक्त है और क्या उपयुक्त अधिकारियों से इसकी अनुमति ली गई है और क्या डिजाइन ठीक से बनाया गया है या नहीं? अन्यथा, मस्जिद में विस्फोट / आग जैसी घटनाएं किसी भी समय हो सकती हैं। उन्होंने संसद में चर्चा में भाग लेते हुए कहा, मैंने कैबिनेट सचिव और संबंधित अधिकारियों को नारायणगंज की मस्जिद में विस्फोट के पीछे के कारणों का पता लगाने का निर्देश दिया है। उन्होंने आगे कहा, इतनी छोटी जगह (मस्जिद) में छह एयर कंडीशनर लगाए गए थे। इसके अलावा मस्जिद को गैस पाइप लाइन पर बनाया गया है। आमतौर पर, गैस पाइप लाइन पर किसी भी निर्माण की अनुमति नहीं है। क्या आरएजेयूके ने अनुमति दी है? कोई भी कभी भी ऐसी घटना होने के जोखिम को देखते हुए अनुमति नहीं दे सकता है। अभी इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को इस मामले पर गौर करने के लिए कहा कि क्या देशभर में मस्जिदों में अनियोजित तरीके से एयर कंडीशनर लगाए गए हैं या कहीं अनधिकृत स्थानों पर मस्जिदों का निर्माण किया जा रहा है, इसकी जांच करें। मस्जिद में विस्फोट को दुखद बताते हुए हसीना ने कहा कि उनकी सरकार ने जख्मी हुए लोगों को बेहतर इलाज मुहैया कराने के लिए हर संभव उपाय किए हैं। वहीं उन्होंने शेख हसीना नेशनल बर्न एंड प्लास्टिक सर्जरी इंस्टीट्यूट के मुख्य समन्वयक, डॉ. सामंता लाल सेन से अस्पताल में भर्ती घायल लोगों के अपडेट के बारे में भी जानकारी लेने की बात कही। एमएनएस-एसकेपी .Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.....The reasons for the air condition explosion in the mosque will be investigated: Hasina. ..